Loading...

Q&A
01:21 PM | 20-07-2020

I am advised to have diet comprising of 50%raw and natural food and 50%cooked food for all 3 meals.. I would like to have suggestions or a diet plan which will help me?

The answers posted here are for educational purposes only. They cannot be considered as replacement for a medical 'advice’ or ‘prescription’. ...The question asked by users depict their general situation, illness, or symptoms, but do not contain enough facts to depict their complete medical background. Accordingly, the answers provide general guidance only. They are not to be interpreted as diagnosis of health issues or specific treatment recommendations. Any specific changes by users, in medication, food & lifestyle, must be done through a real-life personal consultation with a licensed health practitioner. The views expressed by the users here are their personal views and Wellcure claims no responsibility for them.

Read more
Post as Anonymous User
3 Answers

12:47 PM | 21-07-2020

Hello User,

If you aren't having any health issue then here are some guidelines which can help you achieve health. The reason you have started with having cooked and raw diet as raw food help in the easy absorption of nutrients than cooked. Including a lot of fruits, vegetables and nuts will help in giving a lot of proteins and balanced nutrients like carbs and fat even micronutrients like vitamins and minerals will be available and absorbed easily.

Eat:

The first thing in the morning is to start your day with something light in nature. Easy to digest is what your breakfast should be because they are the kind of nutrients that get absorbed easily.

  • Even the early morning ritual should include consumption of two-three glasses of warm water with one teaspoon of methi seeds, which will help in flushing out all the toxins and this will accelerate weight loss.
  • Have a bowl of sprouts with a glass of bottle guard juice and an inch of ginger.
  • After two hours, one fruit, especially seasonal fruit like oranges, papaya, guava.
  • Lunch should have one buckwheat flour roti with any oil-free vegetable.
  • Snack in the evening should have almonds and walnuts, apricots.
  • Dinner should be done by 7 with soup, a bowl full of raw vegetable salad.

Hopefully, these things will help.

Thank you



10:26 AM | 22-07-2020

Namaskar!

Thanks for sharing your query with us!

In Nature Cure, raw food is believed to be live food that provides maximum nourishment, hydration as well as fibre. It is therefore recommended to add more of raw food in your diet. Having said that it is not clear from your query what is your current health condition. We would thereby recommend you to take a personal consultation with a Nature Cure Health coach who can understand your specific condition and guide you accordingly. You can explore our Nature-Nurtures Program that can help you in making the transition, step by step. Our Natural Health Coach will look into your routine in a comprehensive way and give you an action plan. She/he will guide you to correct your existing routine & make it in line with Natural Laws. Please let us know if you are keen to explore.  

In the meantime, you could also read these blogs -

All the best!

Team Wellcure



12:56 PM | 21-07-2020

हेलो,
कारण - यह तो अच्छा है कि 50 परसेंट कच्चा खाने को कहा गया है मगर खाने के बीच का गैप भी समझना आवश्यक है पका हुआ खाना के साथ कच्चा खाना खाने से ना तो कच्चा खाना का लाभ मिल पाता है ना ही पका हुआ खाना का लाभ होता है इसलिए कच्चा खाना को खाने के बाद 5 घंटे का अंतर रखें उसके बाद पका हुआ खाना खाए 3 मील आपका 1 दिन का होता है जिसमें की दो मिलाप का कच्चा होना चाहिए। सुबह का नाश्ता फल हो।  दोपहर का खाना सलाद हो। तीसरा खाना शाम को पका हुआ होना चाहिए। जिसमें कि आपको सलाद खाने की आवश्यकता नहीं है। केवल आप कई भाप में पकी हुई सब्जियों की मात्रा को बढ़ा दे और अनाज एलएल की मात्रा को कम रखें इस प्रकार से अपना भोजन का प्लान बनाएं।  ऐसा करने पर आंतों पर दुष्प्रभाव ना पड़े इसके लिए एक खाने सेेेेेे दूसरे खाने के बीच का अंतराल को अवश्य जाने। फल के बाद 3 घंटे का अंतर होना चाहिए। सलाद के बाद 5 घंटे का अंतर होना चाहिए। सलाद में नमक नींबू का प्रयोग करते हैं तो सलाद के औषधीय गुण नष्ट हो जाते हैं। पका हुआ खाना दिन के अंत में 7:00 बजे से पहले डिनर में ले सकतेे हैं। क्योंकि उसके बाद हम रात की निद्राा लेते हैं। जिससे हमारा पका हुआ खाना पूरी तरीके से पाचन क्रिया को संपूर्ण कर लेता है और वह पूर्ण निष्कासन में मदद करता है।

समाधान- 1 आकाश तत्व- एक खाने से दूसरे खाने के बीच में विराम दें। रोज़ाना 15 घंटे का उपवास करें जैसे रात का भोजन 7 बजे तक कर लिया और सुबह का नाश्ता 9 बजे लें।

2 वायु तत्व- लंबा गहरा स्वाँस अंदर भरें और रुकें फिर पूरे तरीक़े से स्वाँस को ख़ाली करें रुकें फिर स्वाँस अंदर भरें ये एक चक्र हुआ। ऐसे 10 चक्र एक टाइम पर करना है। ये दिन में चार बार करें।I

दौड़ लगाएँ। सूर्य नमस्कार 5 बार करें।

3 अग्नि तत्व- सूरर्य उदय के एक घंटे बाद या सूर्य अस्त के एक घंटे पहले का धूप शरीर को ज़रूर लगाएँ। सर और आँख को किसी सूती कपड़े से ढक कर। जब भी लेंटे अपना दायाँ भाग ऊपर करके लेटें ताकि आपकी सूर्य नाड़ी सक्रिय रहे।

4 जल तत्व- खाना खाने से एक घंटे पहले नाभि के ऊपर गीला सूती कपड़ा लपेट कर रखें और खाना के 2 घंटे बाद भी ऐसा करना है।

नीम के पत्ते का पेस्ट अपने नाभि पर रखें। 20मिनट तक रख कर साफ़ कर लें।

मेरुदंड स्नान के लिए अगर टब ना हो तो एक मोटा तौलिया गीला कर लें बिना निचोरे उसको बिछा लें और अपने मेरुदंड को उस स्थान पर रखें।

खाना खाने से एक घंटे पहले नाभि के ऊपर गीला सूती कपड़ा लपेट कर रखें या खाना के 2 घंटे बाद भी ऐसा कर सकते हैं।

मेरुदंड (स्पाइन) सीधा करके बैठें। हमेशा इस बात ध्यान रखें और हफ़्ते में 3 दिन मेरुदंड का स्नान करें।

पेट पर खीरा का पेस्ट 20 मिनट लगाएँ। फिर साफ़ कर लें। पैरों को 20 मिनट के लिए सादे पानी से भरे किसी बाल्टी या टब में डूबो कर रखें।

5. पृथ्वी तत्व- कच्चे सब्ज़ी का जूस आपका मुख्य भोजन है।  सुबह ख़ाली पेट इनमे से कोई भी हरा जूस लें। पेठे (ash guard ) का जूस लें और नारियल पानी भी ले सकते हैं। बेल का पत्ता 8 से 10 पीस कर 100 ml पानी में मिला कर छान कर पीएँ। खीरा 1/2 भाग, धनिया पत्ती (10 ग्राम) पीस लें, 100 ml पानी में मिला कर पीएँ। दुब घास 25 ग्राम पीस कर छान कर 100 ml पानी में मिला कर पीएँ।

ये जूस सुबह नाश्ते से एक घंटे पहले लें। नाश्ते में फल लें। दोपहर के खाने से एक घंटा पहले हरा जूस लें। खाने में सलाद नमक सेंधा ही प्रयोग करें। नमक की पके हुए खाने में भी बहुत कम लें। सब्ज़ी पकने बाद उसमें नमक डालें। नमक पका कर या अधिक खाने से शरीर में (fluid)  की कमी हो जाती।

सलाद दोपहर 1बजे बिना नमक के खाएँ तो अच्छा होगा क्योंकि नमक सलाद के गुणों को कम कर देता है। सलाद में हरे पत्तेदार सब्ज़ी को डालें और नारियल पीस कर मिलाएँ। कच्चा पपीता 50 ग्राम कद्दूकस करके डालें। कभी सीताफल (yellow pumpkin) 50 ग्राम ऐसे ही डालें। कभी सफ़ेद पेठा (ash guard) 30 ग्राम कद्दूकस करके डालें। ऐसे ही ज़ूकीनी 50 ग्राम डालें। कद्दूकस करके डालें। कभी काजू, बादाम, अखरोट, मूँगफली भिगोए हुए पीस कर मिलाएँ। लाल, हरा, पीला शिमला मिर्च 1/4 हिस्सा हर एक का मिलाएँ। शाम 5 बजे नारियल पानी लें।

रात के खाने में इस अनुपात से खाना खाएँ 2 कटोरी सब्ज़ी के साथ 1कटोरी चावल या 1रोटी लें। रात 8 बजे के बाद कुछ ना खाएँ, 12 घंटे का (gap) अंतराल रखें। 8बजे रात से 8 बजे सुबह तक कुछ नहीं खाना है।

6. एक नियम हमेशा याद रखें ठोस (solid) खाने को चबा कर तरल (liquid) बना कर खाएँ। तरल  को मुँह में घूँट घूँट पीएँ। खाना ज़मीन पर बैठ कर खाएँ। खाते वक़्त ना तो बात करें और ना ही TV और mobile को देखें।ठोस  भोजन के तुरंत बाद या बीच बीच में जूस या पानी ना लें। भोजन हो जाने के एक घंटे बाद तरल पदार्थ  ले सकते हैं।

जानवरों से उपलब्ध होने वाले भोजन वर्जित हैं।

तेल, मसाला, और गेहूँ से परहेज़ करेंगे तो अच्छा होगा। चीनी के जगह गुड़ लें।

हफ़्ते में एक दिन उपवास करें। शाम तक केवल पानी लें, प्यास लगे तो ही पीएँ। शाम 5 बजे नारियल पानी और रात 8 बजे सलाद लें।

7. उपवास के अगले दिन किसी प्राकृतिक चिकित्सक के देख रेख में टोना लें। जिससे आँत की प्रदाह को शांत किया जा सके। एनिमा किट मँगा लें। यह किट ऑनलाइन मिल जाएगा। इससे 200 ml पानी गुदाद्वार से अंदर डालें और प्रेशर आने पर मल त्याग करें। ऐसा दिन में दो बार करना है अगले 21 दिनों के लिए। ये करना है ताकि शरीर में मोजुद विषाणु निष्कासित हो जाये। इसके बाद हफ़्ते में केवल एक बार लेना है उपवास के अगले दिन। टोना का फ़ायदा तभी होगा जब आहार शुद्धि करेंगे।

धन्यवाद।

रूबी, 

प्राकृतिक जीवनशैली प्रशिक्षिका व मार्गदर्शिका (Nature Cure Guide & Educator)


Scan QR code to download Wellcure App
Wellcure
'Come-In-Unity' Plan











Whoops, looks like something went wrong.