Loading...

Q&A
10:13 AM | 08-10-2020

I m 51 years of age. Female. I have cold, cough, sinus issues since I was a teenager. The chronic problem is so deep that I have a bit of deviated septum. N my nose remains blocked day & night n my ears remain blocked too. I feel like water is there inside. I take a lot of steam, though the problem remains but I feel at ease a little bit. But nowadays that too is not helping much. My hearing is much affected because of this. Pls suggest what to do.

The answers posted here are for educational purposes only. They cannot be considered as replacement for a medical 'advice’ or ‘prescription’. ...The question asked by users depict their general situation, illness, or symptoms, but do not contain enough facts to depict their complete medical background. Accordingly, the answers provide general guidance only. They are not to be interpreted as diagnosis of health issues or specific treatment recommendations. Any specific changes by users, in medication, food & lifestyle, must be done through a real-life personal consultation with a licensed health practitioner. The views expressed by the users here are their personal views and Wellcure claims no responsibility for them.

Read more
Post as Anonymous User
5 Answers

11:25 AM | 09-10-2020

Hello,

Nasal congestion may be due to allergies or cold or it may also be the result of a deviated septum. An excessive and abnormal mucous formation may also indicate some infection in the body. This may also be the result of excess toxins accumulated in the body. However, the problem can be managed by following a natural lifestyle and by making some changes in the diet.

Some tips

  • Gargle with warm water with salt added in it twice a day.
  • Take steam daily once in a day.
  • Drink herbal tea twice a day.
  • Use hot water for taking bath.

Diet

  • Start the day with a glass of warm water.
  • Include Vitamin C in your diet like blueberries, amla, oranges, lemon, etc. It has antioxidant properties.
  • Have a light and nutritious breakfast. Have a bowl of sprouts in your breakfast. 
  • Drink freshly prepared homemade fruit juices like beetroot juice, pomegranate juice, etc.
  • Drink coconut water. 
  • Have fresh, seasonal and locally available fruits and vegetables in your diet. 
  • Drink plenty of water throughout the day to be hydrated and to eliminate the toxins out of the body. 

Physical activity 

  • Start the day with a short morning walk of atleast 30min. 
  • Do suryanamaskar regularly. 
  • Practice yogasanas, specially bhujanga asana, trikona asana and paschimottan asana. 
  • Do pranayam regularly, specially anulom-vilom and kapalbhati pranayam. 

Sleep

Sleeping is very important for our health. It helps to maintain the circadian rhythm and hormonal balance. So, take proper sleep of at least 7-8hours daily. Sleep early at night at around 10 pm and also wake up early in the morning at around 6 am.

Thank you 



09:46 AM | 13-10-2020

Namaskar! 

Thanks for sharing your concern. Please consider this -

As per Nature cure, toxic overload is the basic root cause of all diseases, in your case allergy in eyes, ear, nose, throat, and skin is nothing but insufficient elimination of toxins (via kidneys, skin & lungs) as a result the body gets clogged and the toxins cause inflammation of tissues. Cold is basically inflammation of the inner lining of the nose. Cold, cough and any skin allergy are an action initiated by the body in its attempt to throw out toxins and get back to balance.

 As per nature cure, one can reverse this state of imbalance by getting back in sync with the natural laws of living. You can explore our  Natural Health Coaching Program that helps you in making the transition, step by step. Our Natural Health Coach will look into your daily routine in a comprehensive way and give you an action plan. She/he will guide you on the diet, sleep, exercise, stress to correct your existing routine & make it in line with Natural Laws.

In the meanwhile, you can go through: 

 Blogs -

You can also read stories on healing skin issues naturally here and some more stories of people who could take care of their cold/respiratory issues just by following Natural Laws.  

We wish you the best of health!

Team wellcure


Anonymous User
02:26 PM | 12-10-2020

Thank u very much.



02:26 PM | 12-10-2020

हेलो,
कारण - साइनसाइटिस से साइनस में सूजन आ जाती है और यह  संक्रमण के कारण होती है। इसकी वजह से नाक बंद रहता है और बेचैनी महसूस होता है। इसके कारण रात को  सो नहींं पाते हैं।

शरीर में म्यूकस इंफेक्शन है। यह आंत के संक्रमित होने पर होता है।शरीर में अम्ल की अधिकता होने पर संक्रमण का खतरा हमेशा बना रहता है। प्राकृतिक जीवन शैली को अपनाकर पूर्ण स्वास्थ्य का लाभ उठा सकते हैं। 

समाधान- 1. ऐसा खाना जो कि देर तक पछता नहीं है उसका त्याग करें। जैसे दूध, गेहूं, मैदा, रिफाइंड नमक और रिफाइंड शुगर और पैकेट फूड।

फल, सब्जी, और कच्ची सब्जी का जूस को प्रतिदिन ले। ऐसा करने से पाचन शक्ति मजबूत होगा और आंतों की सफाई हो पाएगी। 

2.  सूर्य की रोशनी में 20 मिनट का स्नान सूर्य की रोशनी से करें 5 मिनट सामने 5 मिनट पीछे 5 मिनट दाएं 5 मिनट बाएं भाग में धूप लगाएं। धूप लेट कर लेना चाहिए धूप की रोशनी लेते वक्त सर और आपको किसी सूती कपड़े से ढक ले। नारी मंद होने पर  इन्फेक्शन अधिक होता है अतः आप जब भी सोए अपना दायां भाग ऊपर करके सोए। 

3. प्रतिदिन अपने पेट पर खाने से 1 घंटे पहले या खाना खाने के 2 घंटे बाद गीले मोटे तौलिए को लपेटे एक तौलिया गिला करके उसको निचोड़ लें और हूं उस तौलिए को 20 मिनट तक अपने पेट पर लपेटकर रखें ऐसा करने से आपका पाचन तंत्र दुरुस्त होगा।

4. हर 3 घंटे में लंबा गहरा श्वास अंदर लें उसको थोड़ी देर रोकें और फिर सांस को खाली करें। खाली करने के बाद फिर से रुके और फिर लंबा गहरा सांस ले। यह एक चक्र है ऐसा दिन में 10 चक्र करें केवल एक शर्त का पालन करें जब आप लंबा गहरा सांस ले रहे हैं तो अपनी रीढ़ की हड्डी को सीधा रखें ऐसा करने से आपके शरीर में ऑक्सीजन की मात्रा का बढ़ेगी और ऑक्सीजन का संचार सुचारू रूप से हो पाएगा। प्रतिदिन एक से डेढ़ किलोमीटर तक दौड़ना बहुत आवश्यक है।

4.जल - अलग अलग तरीक़े का स्नान करें। मेरुदंड स्नान, हिप बाथ, गीले कपड़े की पट्टी से पेट की गले और सर की 20 मिनट के लिए सेक लगाए। 

स्पर्श थरेपी करें। मालिश के ज़रिए भी कर सकते है।

तिल के तेल रीढ़ की हड्डी पर घड़ी की सीधी दिशा (clockwise) में और घड़ी की उलटी दिशा (anti clockwise)में मालिश करें। नरम हाथों से बिल्कुल भी प्रेशर नहीं दें।

5.पृथ्वी - सुबह खीरा 1/2 भाग धनिया पत्ती (10 ग्राम) पीस लें, 100 ml पानी मिला कर पीएँ। यह juice आप कई प्रकार के ले सकते हैं। पेठे (ash guard ) का जूस लें और कुछ नहीं लेना है। नारियल पानी भी ले सकते हैं। पालक  पत्ते धो कर पीस कर 100 ml पानी डाल पीएँ। दुब घास 25 ग्राम पीस कर छान कर 100 ml पानी में मिला कर पीएँ। कच्चे सब्ज़ी का जूस आपका मुख्य भोजन है। 2 घंटे बाद फल नाश्ते में लेना है। 

फल को चबा कर खाएँ। इसका juice ना लें। फल सूखे फल नाश्ते में लें।

दोपहर के खाने में सलाद नट्स और अंकुरित अनाज के साथ  सलाद में हरे पत्तेदार सब्ज़ी को डालें और नारियल पीस कर मिलाएँ। कच्चा पपीता 50 ग्राम कद्दूकस करके डालें। कभी सीताफल ( yellow pumpkin)50 ग्राम ऐसे ही डालें। कभी सफ़ेद पेठा (ash guard) 30 ग्राम कद्दूकस करके डालें। ऐसे ही ज़ूकीनी 50 ग्राम डालें।कद्दूकस करके डालें।कभी काजू बादाम अखरोट मूँगफली भिगोए हुए पीस कर मिलाएँ। 

लाल, हरा, पीला शिमला मिर्च 1/4 हिस्सा हर एक का मि लाएँ। लें। बिना नींबू और नमक के लें। स्वाद के लिए नारियल और herbs मिलाएँ।

रात के खाने में इस अनुपात से खाना खाएँ 2 कटोरी सब्ज़ी के साथ 1कटोरी चावल या 1रोटी लेएक बार पका हुआ खाना रात को 7 बजे से पहले लें।

6. एक नियम हमेशा याद रखें ठोस(solid) खाने को चबा कर तरल (liquid) बना कर खाएँ। तरल  को मुँह में घूँट घूँट पीएँ। खाना ज़मीन पर बैठ कर खाएँ। खाते वक़्त ना तो बात करें और ना ही TV और mobile को देखें।ठोस  भोजन के तुरंत बाद या बीच बीच में जूस या पानी ना लें। भोजन हो जाने के एक घंटे बाद तरल पदार्थ ले सकते हैं।हफ़्ते में एक दिन उपवास करें। शाम तक केवल पानी लें, प्यास लगे तो ही पीएँ। शाम 5 बजे नारियल पानी और रात 8 बजे सलाद लें।

7. उपवास के अगले दिन किसी प्राकृतिक चिकित्सक के देख रेख में टोना लें। जिससे आँत की प्रदाह को शांत किया जा सके। एनिमा किट मँगा लें। यह किट ऑनलाइन मिल जाएगा। इससे 200 ml पानी गुदाद्वार से अंदर डालें और प्रेशर आने पर मल त्याग करें। ऐसा दिन में दो बार करना है अगले 21 दिनों के लिए। ये करना है ताकि शरीर में मोजुद विषाणु निष्कासित हो जाये। इसके बाद हफ़्ते में केवल एक बार लेना है उपवास के अगले दिन। टोना का फ़ायदा तभी होगा जब आहार शुद्धि करेंगे।

धन्यवाद।

रूबी, 

प्राकृतिक जीवनशैली प्रशिक्षिका व मार्गदर्शिका (Nature Cure Guide & Educator)



11:09 AM | 09-10-2020

Have you tried fasting? In case its possible for you to do that, 2 days water fasting in a week will reset your body and help you with sinus and other issues. Other 5 days of the week, have 2 meals a day. No snacks. Practice 16:8 intermittent fasting. 


Scan QR code to download Wellcure App
Wellcure
'Come-In-Unity' Plan











Whoops, looks like something went wrong.