Loading...

Q&A
08:53 AM | 21-10-2020

Whenever I suffer from cold, after 3-4 days my head gets heavy and mild pain occurs between 10 am to 7 pm only and cough continuous to come out. What is my problem? Main thing is my head and eyes gets very heavy in afternoon,why is it so,can you help me?


The answers posted here are for educational purposes only. They cannot be considered as replacement for a medical 'advice’ or ‘prescription’. ...The question asked by users depict their general situation, illness, or symptoms, but do not contain enough facts to depict their complete medical background. Accordingly, the answers provide general guidance only. They are not to be interpreted as diagnosis of health issues or specific treatment recommendations. Any specific changes by users, in medication, food & lifestyle, must be done through a real-life personal consultation with a licensed health practitioner. The views expressed by the users here are their personal views and Wellcure claims no responsibility for them.

Read more
Post as Anonymous User
3 Answers

11:48 AM | 27-10-2020

Hello Rakesh,

Cough and cold is a response of the body against infections and toxins. It may occur as a result of seasonal changes also. The inflammation due to the infection leads to headache and heaviness in the eyes and head. 

Here are some tips to follow to manage it-

Some tips 

  • Put 2 drops of mustard oil in both the nostrils in the morning. This will help to remove the excess cough from the nasal passage.
  • Take steam with pudina leaves twice a day.
  • Have herbal tea in the morning.

Diet

  • Have a glass of warm water with fresh lemon juice in it. It has antioxidant properties and will help to flush the toxins out of the body.
  • Have only plant-based natural foods in the diet.
  • Avoid dairy and animal products as they are not meant for the human digestive system and hence results in the accumulation of toxins which leads to pain and inflammation in the body.
  • Avoid carbonated drinks. 
  • Say no to smoking and alcohol.
  • Drink coconut water. 

Physical activity 

Exercising or yoga is essential for a good blood circulation in the body and also it helps to flush the toxins from the body.

  • Start the day with a short morning walk. 
  • Do suryanamaskar daily. 
  • Practice anulom-vilom and kapalbhati pranayam daily. 
  • Take the early morning sunrays daily. 

Sleep

Sleeping quality is very essential for a healthy body. It helps to maintain circadian rhythm and hence hormonal balances. 

So, take proper sleep of at least 7-8hours daily. Sleep early at night and also wake up early in the morning. 

 

Thank you 



10:05 PM | 22-10-2020

हेलो,
कारण - सिर में दर्द   और भारीपन इस बात का सूचक है कि ऑक्सीजन और रक्त का संचार ठीक प्रकार से नहीं हो पा रहा है। रक्त और ऑक्सीजन के संचार में कमी होने का मुख्य कारण पाचन तंत्र में अम्ल का बढ़ना है। जैसे वायुमंडल में हवा दूषित होने पर ऑक्सीजन की मात्रा कम हो जाती है उसी तरीके से शरीर में अम्ल की मात्रा बढ़ने से ऑक्सीजन और रक्त की संचार में कमी आती है। वजन बढ़ने का कारण भी खराब हाजमा है। 

यह लंबे समय तक खराब हाजमा होनेे  के कारण होता है।

प्राकृतिक चिकित्सा पद्धति में इसका समाधान है।

समाधान - 1. चार भिंडी को लंबा काटकर एक गिलास पानी में डाल दें और सुबह खाली पेट नेचुरल मोशन होने से पहले उसको पी लें। पीते वक्त इस बात का ध्यान रखें कि पानी को मुंह में रख रख केपीए।

2. सूर्य की रोशनी में 20 मिनट का स्नान सूर्य की रोशनी से करें 5 मिनट सामने 5 मिनट पीछे 5 मिनट दाएं 5 मिनट बाएं भाग में धूप लगाएं। धूप लेट कर लेना चाहिए धूप की रोशनी लेते वक्त सर और आपको किसी सूती कपड़े से ढक ले। सूर्य नारी मंद होने पर  इन्फेक्शन अधिक होता है अतः आप जब भी सोए अपना दायां भाग ऊपर करके सोए। 

3. प्रतिदिन अपने पेट पर खाने से 1 घंटे पहले या खाना खाने के 2 घंटे बाद गीले मोटे तौलिए को लपेटे एक तौलिया गिला करके उसको निचोड़ लें और हूं उस तौलिए को 20 मिनट तक अपने पेट पर लपेटकर रखें ऐसा करने से आपका पाचन तंत्र दुरुस्त होगा।

4. हर 3 घंटे में लंबा गहरा श्वास अंदर लें उसको थोड़ी देर रोकें और फिर सांस को खाली करें। खाली करने के बाद फिर से रुके और फिर लंबा गहरा सांस ले। यह एक चक्र है ऐसा दिन में 10 चक्र करें केवल एक शर्त का पालन करें जब आप लंबा गहरा सांस ले रहे हैं तो अपनी रीढ़ की हड्डी को सीधा रखें ऐसा करने से आपके शरीर में ऑक्सीजन की मात्रा का बढ़ेगी और ऑक्सीजन का संचार सुचारू रूप से हो पाएगा।

5.सुबह खीरा 1/2 भाग धनिया पत्ती (10 ग्राम) पीस लें, 100 ml पानी मिला कर पीएँ। यह juice आ कई प्रकार के ले सकते हैं। पेठे (ashguard ) का जूस लें और कुछ नहीं लेना है। नारियल पानी भी ले सकते हैं। पालक  पत्ते धो कर पीस कर 100ml पानी डाल पीएँ। दुब घास 25 ग्राम पीस कर छान कर 100 ml पानी में मिला कर पीएँ। कच्चे सब्ज़ी का जूस आपका मुख्य भोजन है। 2 घंटे बाद फल नाश्ते में लेना है। 

फल को चबा कर खाएँ। इसका juice ना लें। फल सूखे फल नाश्ते में लें।

दोपहर के खाने में सलाद नट्स और अंकुरित अनाज के साथ  सलाद में हरे पत्तेदार सब्ज़ी को डालें और नारियल पीस कर मिलाएँ। कच्चा पपीता 50 ग्राम कद्दूकस करके डालें। कभी सीताफल ( yellow pumpkin)50 ग्राम ऐसे ही डालें। कभी सफ़ेद पेठा (ashgurd) 30 ग्राम कद्दूकस करके डालें। ऐसे ही ज़ूकीनी 50 ग्राम डालें।कद्दूकस करके डालें।कभी काजू बादाम अखरोट मूँगफली भिगोए हुए पीस कर मिलाएँ। 

लाल, हरा, पीला शिमला मिर्च 1/4 हिस्सा हर एक का मिलाएँ। लें। बिना नींबू और नमक के लें। स्वाद के लिए नारियल और herbs मिलाएँ।

रात के खाने में इस अनुपात से खाना खाएँ 2 कटोरी सब्ज़ी के साथ 1कटोरी चावल या 1रोटी लेएक बार पका हुआ खाना रात को 7 बजे से पहले लें।

6. एक नियम हमेशा याद रखें ठोस(solid) खाने को चबा कर तरल (liquid) बना कर खाएँ। तरल  को मुँह में घूँट घूँट पीएँ। खाना ज़मीन पर बैठ कर खाएँ। खाते वक़्त ना तो बात करें और ना ही TV और mobile को देखें।ठोस  भोजन के तुरंत बाद या बीच बीच में जूस या पानी ना लें। भोजन हो जाने के एक घंटे बाद तरल पदार्थ ले सकते हैं। हफ़्ते में एक दिन उपवास करें। शाम तक केवल पानी लें, प्यास लगे तो ही पीएँ। शाम 5 बजे नारियल पानी और रात 8 बजे सलाद लें।

7. उपवास के अगले दिन किसी प्राकृतिक चिकित्सक के देख रेख में टोना लें। जिससे आँत की प्रदाह को शांत किया जा सके। एनिमा किट मँगा लें। यह किट ऑनलाइन मिल जाएगा। इससे 200ml पानी गुदाद्वार से अंदर डालें और प्रेशर आने पर मल त्याग करें। ऐसा दिन में दो बार करना है अगले 21 दिनों के लिए। ये करना है ताकि शरीर में मोजुद विषाणु निष्कासित हो जाये। इसके बाद हफ़्ते में केवल एक बार लेना है उपवास के अगले दिन। टोना का फ़ायदा तभी होगा जब आहार शुद्धि करेंगे।

धन्यवाद।

रूबी, 

प्राकृतिक जीवनशैली प्रशिक्षिका व मार्गदर्शिका (Nature Cure Guide & Educator)



03:24 PM | 22-10-2020

Dear Rakesh,

We do understand how debilitating it must be for you to suffer cold and headache! Please understand that, as per Nature Cure, the body works in unison and different health issues (cold and thyroid in your case) eventually are related. Toxic overload is the basic root cause of all diseases. Toxins are a byproduct of metabolism and also get added due to wrong lifestyle choices. Due to insufficient elimination of toxins (via kidneys, skin & lungs) the body gets clogged and the toxins cause inflammation of tissues. Cold is basically inflammation of the inner lining of the nose. When the toxic load within the body is too high, the body opens up the mucous membranes to drain out the toxins via the mucous. This is what we perceive as phlegm (which is actually mucus mixed with white blood cells, and any remnants of tissue destruction and other toxins) which makes its way out through discharge from the nose, eyes, ears. Cold is an action initiated by the body in its attempt to throw out toxins and get back to balance. Once the toxins are released and the body is back in balance headaches will be taken care of.

As per nature cure, one can reverse this state of imbalance by getting back in sync with the natural laws of living. We would thereby urge you to transition into a natural lifestyle and experience your body's own healing mechanism. 

You can explore our Natural Health Coaching Program that helps you in making the transition, step by step. Our Natural Health Coach will look into your daily routine in a comprehensive way and give you an action plan. She / he will guide you on diet, sleep, exercise, stress to correct your existing routine & make it in line with Natural Laws.

In the meanwhile, please also refer to the below resources:

Blogs -

Real-life natural healing stories of people who cured cold/respiratory issues just by following Natural Laws.  

Wishing you good health!

Team Wellcure


Scan QR code to download Wellcure App
Wellcure
'Come-In-Unity' Plan











Whoops, looks like something went wrong.